हरियाणा न्यूज़दिल्ली न्यूज

Vande Bharat Express News: दिल्ली-अजमेर के बीच ट्रायल पूरा, वंदे भारत एक्‍सप्रेस जानिए कब से दौड़ने लगेगी, पूरी डिटेल यहाँ देखे

Riskynews Webteam: नई दिल्ली:- Vande Bharat Express News: वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन जल्द ही दिल्ली-अजमेर के बीच दौड़ने लगेगी। वंदे भारत एक्सप्रेस का ट्रायल रन गुरुवार को पूरा हो गया है। माना जा रहा है कि अप्रैल के पहले हफ्ते में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे।

b554147d 37fb 4702 924e 815ec0ebd77f

दिल्ली-अजमेर के बीच सेमी-हाई स्पीड वंदे भारत ट्रेन का ट्रायल रन पूरा हो गया है. बुधवार और गुरुवार को इसे अजमेर शताब्दी के पीछे चलाया गया। जो शताब्दी के साथ दिल्ली पहुंचा।

यह ट्रेन दूसरे दिन शाम 4.50 बजे अजमेर से रवाना हुई, जो जयपुर से सुबह 6.35 बजे, अलवर से सुबह 8.20 बजे, रेवाड़ी से सुबह 9.30 बजे, गुड़गांव से सुबह 10.16 बजे रवाना हुई। और वापसी में दिल्ली से 12:20 बजे और गुड़गांव से 1:06 बजे रवाना हुई।

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि यह ट्रेन सवा छह घंटे में अपना सफर पूरा कर रही है। जबकि अहमदाबाद राजधानी इस रूट पर पांच घंटे 50 मिनट में सबसे कम समय लेती है। रेगुलर ऑपरेशन में आने के बाद इस समय को कम भी किया जा सकता है। उत्तर पश्चिम रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि प्रधानमंत्री एक ही दिन भोपाल-दिल्ली और अजमेर-दिल्ली वंदे भारत को हरी झंडी दिखा सकते हैं.

अप्रैल के पहले सप्ताह में चलाने की तैयारी है

दिल्ली-अजमेर वंदे भारत वाया गुड़गांव के संचालन की तिथि अभी तय नहीं हुई है, लेकिन उत्तर-पश्चिम रेलवे ने इसे अप्रैल के पहले सप्ताह में चलाने की तैयारी कर ली है. तारीख फाइनल होने के बाद इसका शेड्यूल आईआरसीटीसी के पोर्टल पर अपडेट कर दिया जाएगा। ताकि यात्री ऑनलाइन टिकट बुक कर सकें।

See also  Haryana News: हरियाणा ये नस्ल की भैंस 'गंगा' बनी एक दिन में 31 लीटर दूध देने वाली 'नंबर वन' भैंस, पूरी डिटेल यहाँ से जाने

पैंटोग्राफ की ऊंचाई बढ़ाकर 7.2 मीटर की गई

जबकि दिल्ली-जयपुर डबल डेकर रूट है और बिजली के तार की ऊंचाई ज्यादा है। जिसके चलते वंदे भारत के पैंटोग्राफ की ऊंचाई 7.2 मीटर कर दी गई है. इसलिए इसे हाई राइज ट्रेन का दर्जा दिया गया है।

रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य योगेंद्र सिंह चौहान का कहना है कि यात्रियों की मांग है कि इस ट्रेन का समय सुबह अजमेर से दिल्ली और शाम को दिल्ली से अजमेर के लिए बदला जाए.

वहीं, पालम रेवाड़ी डेली पैसेंजर एसोसिएशन के महासचिव बालकृष्ण अमरसरिया ने कहा कि शताब्दी और राजधानी में जितने स्टॉपेज हैं, उतने ही स्टॉपेज हैं। वंदे भारत के वो स्टॉपेज भी होने चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button